Brahma Temple

Currently Open [Closes at 01:30 pm]
  • Address: Brahma Temple Rd, Ganahera, Pushkar, Rajasthan 305022, India
    Map
  • Timings: 05:00 am - 09:00 pm Details
  • Ticket Price: Free
  • Time Required: 01:00 Hrs
  • Tags: Religious Site, Temple, Historical Site, Family And Kids

This is one of the few temples in India that is dedicated to Lord Brahma and perhaps the most prominent one. This temple is one of the pilgrimage sites for Hindus and every year innumerable devotees visit here during the Pushkar Mela. Although the present temple structure dates to the 14th century, it is believed to be 2000 years old. The temple is mainly built of marble and stone stabs. It has a distinct red pinnacle (shikhara) and a hamsa bird motif. The temple sanctorum holds the central images of Brahma and his second consort Gayatri.

  • Famed to be one of the only few Brahma Temple in the world, head here to understand the legend behind Brahma-devotion.

  • Walking distance from Pushkar city centre.

Love this? Explore the entire list of things to do in Pushkar before you plan your trip.

Fancy a good night's sleep after a tiring day? Check out where to stay in Pushkar and book an accommodation of your choice.

  • Brahma Temple Address: Brahma Temple Rd, Ganahera, Pushkar, Rajasthan 305022, India
  • Brahma Temple Timing: 05:00 am - 09:00 pm
  • Brahma Temple Price: Free
  • Best time to visit Brahma Temple(preferred time): 06:00 am - 01:30 pm
  • Time required to visit Brahma Temple: 01:00 Hrs
  • Try the best online travel planner to plan your travel itinerary!
  • Website: http://en.wikipedia.org/wiki/Brahma_Temple,_Pushkar
Are you associated with this business? Get in Touch
  • 95% of people who visit Pushkar include Brahma Temple in their plan

  • 74.19% of people start their Brahma Temple visit around 3 PM - 4 PM

  • People usually take around 1 Hr to see Brahma Temple

Wednesday, Friday and Sunday

59.62% of people prefer to travel by car while visiting Brahma Temple

People normally club together Man Mahal and Pushkar Camel Safari Tour while planning their visit to Brahma Temple.

People also prefer to end their day with Brahma Temple.

* The facts given above are based on traveler data on TripHobo and might vary from the actual figures
Google+
  • Awesome Temple... Only one temple of lord Brahmaji in all over the world.. Very clean and well maintained Temple in spite of this is one of the oldest temple in India.. easy to reach anywhere from Rajasthan... parking facilities is good.. The near about market place is also good to purchase of local cultural costumes, handicrafts and other local products... Restaurant and hotel are also available to stay here with good rates and tariff... I think this is the best place for spend quality time...

  • Like most other pilgrimage destinations the temple attracts devotees of different age group and social status, with time all such places become less maintained than required and thus give one an overall idea of clumsy and dirty place. However if you have the imagination and eye for it you'll find it's beauty. Surrounded by hills and with a lake within it's boundaries the temple represents an awe inspiring aura, while Rajasthan is famous for it's desert and sand dunes a lake of this size is hard to come by, so back in the days the place must have been a symbol of strength and hope for the locals

  • पुष्कर राजस्थान मे विख्यात तीर्थ स्थान है जहां प्रति वर्ष विश्व प्रसिद्ध पुष्कर मेला लगता है।यह अजमेर जिले मे स्थित है।यहा भगवान ब्रम्हा का एक मंदिर है।पुष्कर अजमेर से 14 किमी की दूरी पर स्थित है। इतिहास पुष्कर के उद्भव का वर्णन पद्मपुराण मे मिलता है।कहा जाता है,भगवान ब्रम्हा ने यहाँ आकर यज्ञ किया था।हिंदूओ के प्रमुख तीर्थ स्थानो मे पुष्कर ही एक एसी जगह है जहाँ भगवान ब्रम्हा का एक मात्र मंदिर स्थापित है।पुष्कर का उल्लेख रामायण मे भी हुआ है।सर्ग 62 श्लोक 28 मे गुरू विश्वामित्र के यहाँ तप करने की बात कही गई है।सर्ग 63 श्लोक 15 के अनुसार मेनका यहाँ के पावन जल मे स्नान करने के लिए आई थी। यहाँ पर प्रतिवर्ष कार्तिक पूर्णिमा को पुष्कर मेला लगता है जिसमे देश विदेश से पर्यटक आते है।हजारो हिन्दू भी इस मेले मे आते है तथा पुष्कर झील मे स्नान करके अपने को पवित्र करते है।

  • पुष्‍कर, भारत के सबसे पवित्र शहरों में से मान्‍यता प्राप्‍त शहर है। यह अजमेर शहर से 14 किमी. दूर है। इस पवित्र शहर के संदर्भ में 4 सदी के चीनी यात्री फा- हियान के यात्रा वृत्‍तांत से और भारत पर मुगलों द्वारा किए गए हमले की अवधि के दौरान लिखे गए लेखन से पता चलता है। एक प्रख्‍यात भारतीय कवि कालिदास ने अपनी प्रसिद्ध रचना अभिज्ञान शाकुंतलम में पुष्‍कर को काफी वरीयता दी है। इस छोटे से शहर में 400 से अधिक मंदिर और 52 घाट हैं। पुष्‍कर में स्थित ब्रहमा मंदिर, भारत में भगवान ब्रहमा को समर्पित कुछ मंदिरों में से एक है। पुष्‍कर के अन्‍य प्रसिद्ध मंदिरों में वारह मंदिर, अप्‍टेश्‍वर मंदिर और सावित्री मंदिर हैं। क्या चीज़ पुष्कर को पर्यटकों के बीच लोकप्रिय बनाती है इस जगह, पवित्र पुष्‍कर झील एक और धार्मिक आकर्षण है जिसकी उत्‍पत्ति के पीछे एक पौराणिक कथा है। पौराणिक कथा के अनुसार, यहां भगवान ब्रहमा ने दानव वज्र नाभ का कमल के फूल से वध किया था।वध करने के फलस्‍वरूप, कमल के फूल की तीन पंखुडि़यां झर गई, जिनमें से एक पुष्‍कर में गिर गई और वह जगह पवित्र झील के रूप में सामने आई। पुष्‍कर झील में लाखों लोग कार्तिक पूर्णिमा  ( जब चंद्रमा पूरा निकलता है ) के दिन डुबकी लगाते हैं। यह आम धारणा है कि यहां डुबकी लगाने से मोक्ष प्राप्ति होती है। पुष्‍कर शहर, यहां लगने वाले मेलों और त्‍यौहारों के लिए भी लोकप्रिय है। हर साल, नवंबर महीने में इस शहर में विश्‍व प्रसिद्ध पुष्‍कर पशु मेला लगता है, जो दुनिया का सबसे बड़ा मवेशियों/पशुओं का बाजार है। मवेशी या पशुओं के व्‍यापार के अलावा इस मेले में राजस्‍थानी परंपरा और सस्‍ंकृति के विभिन्‍न पहलुओं को प्रदर्शित करने वाली वस्‍तुओं को भी खरीदा व बेचा जाता है। शहर के लिए कैसे पहुंचा जाये  दुनिया के किसी भी कोने से यात्री, पुष्‍कर आसानी से पहुंच सकते हैं। पुष्‍कर का सबसे नजदीक एयरपोर्ट सांगानेर हवाई अड्डा है जो जयपुर में स्थित है। जबकि अजमेर रेलवे स्‍टेशन निकटतम रेलवे स्‍टेशन है। राज्‍य के कई शहरों जैसे - जयपुर, जैसलमेर और उदयपुर से अजमेर भली - भांति सड़क मार्ग से जुड़ा हुआ है। पुष्‍कर घूमने का सबसे उत्‍तम मौसम सर्दियों में होता है, इस  दौरान तापमान 8 डिग्री सेल्सियस से 25 डिग्री सेल्सियस के बीच रहता है।

  • I hope not. You might pull a muscle. You need to start small in order to achieve something big like that. When it comes to learning English, what if I told you that you can understand big ideas with just a little bit of text? You do not need to wait several years to deal with complex concepts. Just because you are learning a language does not mean you need to limit your thinking. Stories are all about going beyond reality. It is no wonder that they let you understand big concepts with only a little bit of reading practice.

Read all reviews